Ethiclogy

गंगा दशहरा क्यों मनाया जाता है और यह दिन इतना महत्वपूर्ण क्यों है ?



              

माँ गंगा का धरती पर अवतरण जेष्ठ शुक्ल पक्ष की दशमी को हुआ था अत:यह तिथि तबसे उनके नाम पर गगां दशहरा के नाम प्रसिद्ध हो गयी है। यदि यह दिन अधिकमास या मलमास में पड़े तो और भी ज्यादा पुण्यकारी होता है। कहा जाता है कि माँ गंगा धरती पर मनुष्य को उनके पापों से मुक्त करने के लिए आई थी और उनको धरती पर लाने का कार्य राजा भगीरथ ने किया था,क्योकि उन्हें अपने पितरों का तर्पण कर उन्हें कर्मों के बन्धनों से मुक्त करना था। इस दिन गंगा स्नान और गंगा पूजा से दश प्रकार के पापों से मुक्ति मिलती है इस दिन दान और पूजा में भी दस प्रकार की चीजें होना चाहिए।