Ethiclogy

अग्निदेव कौन हैं ?



              

अग्नि हिन्दू धर्म में आग के देवता हैं। वह सभी देवताओं के लिए यज्ञ-वस्तु वरण करने का माध्यम माने जाते हैं। इसलिए सभी बड़े देवताओं में उनका स्थान हैं। हिन्दू धर्म रीति में यज्ञ,हवन ,और विवाह आदि में अग्नि द्वारा ही देवताओं की पूजा की जाती हैं। देवगुरु बृहस्पति की पत्नी तारा थी जिन्होंने सात पुत्र और एक कन्या को जन्म दिया था जिनमे से एक पुत्र अग्निदेव हुए। अग्निदेव की पत्नी का नाम स्वाहा था जो कि दक्ष प्रजापति और आकूति की पुत्री थी। उनके तीन पुत्र -पावक ,पवमान और शुचि थे।