Ethiclogy

सीता ने करानी चाही थी श्री राम की शादी पर पुरुषोत्तम ने नकारा!



              

भगवान विष्णु के अवतार श्रीराम मर्यादा पुरषोतम थे उन्होंने एक आदर्श पति बेटे और भाई राजा और पिता का ऐसा उदहारण पेश किया था जो युगो युगो तक नही भुलाया जायेगा. महिलाये सीता के त्याग करने पर उनपे सवाल उठाती है लेकिन ये जान ले की खुद सीता ने उनकी दूसरी शादी करानी चाही थी लेकिन उन्होंने मना कर दिया था.